आपकी आँखों की सेहत के दोस्त और दुश्मन हैं यह खाद्य पदार्थ

आपके आहार का आपकी दृष्टि सहित आपके समग्र स्वास्थ्य पर बड़ा प्रभाव पड़ता है। पर्याप्त पानी पीने के अलावा, एक संतुलित आहार लेना जिसमें फलों और सब्जियों की अधिकता हो, और चीनी और संतृप्त वसा की मात्रा यथासंभव कम हो, उन कुछ सबसे फायदेमंद चीजों में से एक है जो आप अपनी आंखों के स्वास्थ्य के लिए कर सकते हैं।

 

ज्यादातर लोग यह जानते हैं कि गाजर और अन्य नारंगी रंग के फल और सब्जियां नेत्र स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हैं, लेकिन आपको अपनी आंखों को स्वस्थ रखने के लिए और अपनी दृष्टि को तेज रखने के लिए अपने नियमित आहार में कुछ अन्य खाद्य पदार्थों को शामिल करने पर भी विचार करना चाहिए:

 

मछली

मछली को अपने आहार में शामिल करने से आपकी दृष्टि की रक्षा होगी और वह तीक्ष्ण भी होगी। आपके रेटिना को सही ढंग से काम करने के लिए दो प्रकार के ओमेगा -3 फैटी एसिड की आवश्यकता होती है: डीएचए और ईपीए। यह दोनों सामन, ट्यूना और ट्राउट जैसी मछलियों में भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। इसके अतिरिक्त, ओमेगा-3 फैटी एसिड आपकी आंखों को बढ़ती उम्र से संबंधित बीमारियों जैसे मोतियाबिंद, सूखी आंख और ग्लूकोमा इत्यादि से बचाने में भी मदद करता है।

 

यदि आपको समुद्री भोजन पसंद नहीं है, तो अपने शरीर में ओमेगा-3 फैटी एसिड्स की कमी पूरी करने के लिए मछली के तेल से बने सप्लीमेंट्स को अपनी खुराक में शामिल करने की कोशिश करें।

 

पत्तेदार साग

पालक, मेथी और सरसों जैसे गहरे पत्ते वाले साग, ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन जैसे लाभदायक तत्वों से समृद्ध होते हैं और विटामिन सी और बीटा कैरोटीन का एक बड़ा स्रोत हैं। ये एंटीऑक्सिडेंट आपकी आंखों के लिए एक प्राकृतिक सनस्क्रीन की तरह काम करेंगे और उन्हें हानिकारक पराबैंगनी किरणों से बचाएंगे। यदि आप पत्तेदार साग खाना पसंद नहीं करते हैं, तो उसकी जगह मटर जैसी हरी सब्जियों को अपने आहार में शामिल करें।

 

अंडे

अंडे की जर्दी ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन का एक और प्रमुख स्रोत है, जो उम्र से संबंधित दृष्टि हानि के जोखिम को कम करता है। अंडे आंखों के लिए अत्यधिक लाभकारी विटामिन ई और सी, और जस्ते का भी एक महत्वपूर्ण स्रोत हैं। सप्ताह में एक या दो बार अंडे से बने नाश्ते का विकल्प चुनने से आपकी आंखों के स्वास्थ्य को बढ़ावा मिलेगा।

 

खट्टे फल

विटामिन सी मोतियाबिंद और ग्लूकोमा जैसी आँखों की बीमारियों के खिलाफ एक प्रमुख रक्षक है। आप संतरे, अंगूर, नींबू और जामुन जैसे खट्टे फलों से विटामिन सी प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप फल खाना पसंद नहीं करते हैं और विटामिन सी को अपनी दैनिक खुराक में शामिल करना चाहते हैं, तो विटामिन सी सप्लीमेंट्स ले सकते हैं, जो आपको किसी भी दवा की दुकान पर मिल जाएँगे।

 

फलियां व दालें

सेम की फली और दालें बायोफ्लेवोनॉइड्स और जिंक के अच्छे स्रोत हैं। यह दोनों आँखों के रेटिना की रक्षा में मदद करते हैं और मोतियाबिंद के जोखिम को कम करने में भी सहायक हैं। जिंक आंखों को तेज़ रोशनी से होने वाले नुकसान से बचाने में भी मदद करता है।

 

याद रखें, विटामिन सी, ए, जिंक और ओमेगा -3 युक्त खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल करने से आपकी आँखों की सुरक्षा होगी और आपकी नेत्र ज्योति लंबे समय तक सशक्त, स्पष्ट एवं तीक्ष्ण रहेगी।

 

 

हमारी आंखें संवहनी होती हैं, जिसका अर्थ है कि हमारी आंखों को स्वस्थ रखने वाली रक्त वाहिकाओं को सुचारू रखने के लिए हृदय को स्वस्थ रखने वाला आहार लेना महत्वपूर्ण है। महीन धमनियाँ आपके रेटिना को पोषक तत्व और ऑक्सीजन प्रदान करती हैं; क्योंकि ये धमनियाँ इतनी बारीक होती हैं, इसलिए वसा की जमावट आसानी से अवरुद्ध नसों का कारण बन सकती है।

 

ऊपर हमने आपको उन खाद्य पदार्थों के बारे में सूचित किया है जो आपके नेत्र स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हैं। अब, विशेषज्ञों से प्राप्त प्रामाणिक जानकारी के आधार पर हम उन खाद्य पदार्थों की एक सूची दे रहे हैं जो आपकी आँखों के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हैं।

 

रासायनिक मसाले, पिज़्ज़ा टॉपिंग, और सजावटी

टॉपिंग जो आपके मेयोनेज़, सलाद को सजाने वाली सामग्रियों या जेली जैसे खाद्य पदार्थों के रूप में आपके रेफ्रिजरेटर में अमूमन पाए जातेहैं, सभी वसा की अत्यधिक उच्च मात्रा से भरे हुए हैं।

 

अपने अगले सैंडविच, बर्गर, या सलाद का स्वाद बढ़ाने के लिए इन विकल्पों का उपयोग करने के बजाय आप विटामिन सी से युक्त ताजे नींबू के रस को निचोड़ कर या हरी सब्जियों को काट कर टॉपिंग के रूप में प्राकृतिक स्वाद का आनंद लें। इससे आप अपने पोषण संबंधी लाभों का त्याग किए बिना प्राकृतिक खाद्य पदार्थों के साथ बढ़िया स्वाद प्राप्त कर सकेंगे!

 

सफेद या पीले रंग के खाद्य पदार्थ

उन सभी सफेद खाद्य पदार्थों के बारे में सोचें जो आप खाते हैं: जैसे पास्ता, सफेद ब्रेड, चावल और मैदा। यह सभी खाद्य पदार्थ आपको लगभग कोई पोषक लाभ प्रदान नहीं करते हैं, यह केवल कार्बोहाइड्रेट्स से भरे होते हैं और अंततः आपके शरीर में वसा की मात्रा को बढ़ाते हैं।

 

यदि आप इन खाद्य पदार्थों को खा रहे हैं, तो इनके साथ अपने भोजन में साग और ओमेगा-3 फैटी एसिड्स से समृद्ध खाद्य पदार्थों को शामिल करें, जो आप को पौष्टिक लाभ प्रदान करने में भलीभाँति सक्षम हैं। या, इन पदार्थों की जगह उन स्वस्थ विकल्पों को अपने भोजन में शामिल करें जिनमें साबुत अनाजों का उपयोग किया गया हो।

 

वसायुक्त मांस

अक्सर मांसाहारी लोग अपने भोजन में प्रसंस्कृत लाल माँस की बड़ी मात्रा रखते हैं, क्योंकि शॉपिंग मॉल इत्यादि से इसे खरीदना अपेक्षाकृत आसान व सहज