कोरोनावायरस के शिकार हुए महान गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का यह वीडियो आपको हिला कर रख देगा

अनेकों भारतीय भाषाओं में अपनी गायन प्रतिभा का लोहा मनवाने वाले अत्यधिक प्रसिद्ध एवं प्रतिभाशाली गायक एसपी बालासुब्रमण्यम का बीते शुक्रवार को कोरोनावायरस के कारण देहांत हो गया था। 27 सितंबर 2020 शनिवार को उनके फार्म हाउस में उनका अंतिम संस्कार किया गया। 

प्रसिद्ध गायक एसपी बालासुब्रमण्यम के निधन से उनके प्रशंसक दुखी हो गए हैं। उनका अंतिम संस्कार थिरुवल्लूर जिले के थमारिपक्कम गांव में उनके बेटे एस पी चरण द्वारा किया गया। 

74 वर्षीय इस महान गायक को कोरोनोवायरस के लिए पॉज़िटिव पाए जाने के बाद अगस्त के पहले सप्ताह में चेन्नई के एमजीएम हेल्थकेयर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके बेटे एसपी चरण ने एमजीएम हेल्थकेयर में संवाददाताओं से कहा, "एसपीबी सभी के थे। वह अपने गानों से हमें हमेशा मोहते रहेंगे। मेरे पिताजी का निधन 1.04 बजे हुआ।" 

अस्पताल के आधिकारिक बयान में कहा गया, “थिरु एस पी बालासुब्रह्मण्यम को 5 अगस्त को एमजीएम हेल्थकेयर में भर्ती कराया गया था और 14 अगस्त से उन्हें गंभीर COVID-19 निमोनिया हो गया था जिसके उपचार के लिए उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। हमारी क्रिटिकल केयर यूनिट में एक अनुभवी टीम द्वारा बारीकी से उनकी निगरानी की जाती। 4 सितंबर को किए गए टेस्ट में उन्हें COVID-19 के लिए नेगेटिव पाया गया। आज सुबह एक झटके से उनकी तबीयत ख़राब हो गई, और हमारे सर्वोत्तम प्रयासों के बावजूद उनकी स्थिति और बिगड़ती चली गई तथा उन्हें एक प्रबल श्वसन एवं हृदय आघात का सामना करना पड़ा। गहन दु: ख के साथ हमें यह बताते हुए खेद है कि 25 सितंबर को 13:04 बजे उनका निधन हो गया है। हम पीड़ा और दुख के इस समय में उनके परिवार, दोस्तों, शुभचिंतकों और प्रशंसकों को हुई अपार क्षति के लिए हार्दिक संवेदना व्यक्त करते हैं। ”

महान गायक एस पी बालासुब्रमण्यम के निधन से उनके प्रशंसकों को भीषण दुःख हुआ तथा सोशल मीडिया पर कई जानी मानी हस्तियों ने उन्हें श्रद्धांजलि प्रदान की।

कंगना रनौत ने ट्विटर पर कहा कि 90 के दशक के बच्चों को यह जीवंत किंवदंती कभी विस्मृत नहीं होगी। उनकी आवाज हमारे शुरुआती जीवन के दिनों का एक अविभाज्य हिस्सा है। आप हम में से एक के रूप में हमेशा हमारे साथ बने रहेंगे।"

वहीं आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने भी एस पी बालासुब्रमण्यम के परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की। एक बयान में उन्होंने कहा, "श्रीपति पंडितराधुला बालासुब्रमण्यम, जिन्हें लोकप्रिय रूप से एसपी बालासुब्रमण्यम के रूप में जाना जाता है, पाँच दशकों से अधिक समय तक फिल्मी संगीत को अपनी रचनाओं से झंकृत करते रहे तथा अपनी बहुमुखी प्रतिभा के माध्यम से विख्यात संगीतकारों व आम लोगों को एक साथ रोमांचित करते रहे।" 

तमिल सिनेमा के महान संगीतकार इलैयाराजा ने दिवंगत गायक एसपी बालासुब्रमण्यम के लिए एक गीत तैयार किया है तथा इस गाने को जगपति बाबू ने ट्विटर पर शेयर किया है। शनिवार को इलैयाराजा ने दिवंगत गायक को तिरुवनमलाई जाकर अपनी श्रद्धांजलि भी अर्पित की।

एस पी बालासुब्रमण्यम के अंतिम संस्कार से पहले शनिवार को तमिलनाडु पुलिस द्वारा उन्हें 24-बंदूकों की सलामी भी दी गई। फ़िल्म संगीत के क्षेत्र में एस पी बालासुब्रमण्यम ने एक बेहद शानदार करियर जिया। उन्होंने छह राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और 25 नंदी पुरस्कार जीते। भारत सरकार ने उन्हें को 2001 में पद्म श्री और 2011 में पद्म भूषण से सम्मानित किया। 40,000 से अधिक फ़िल्मी गीत गाने का गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के साथ ही, उन्होंने कई फिल्मों में अभिनय भी किया। उनकी प्रमुख फिल्मों में केलडी कानमानी (1990), थिरुदा थिरुडा (1993), कधलान (1994), उल्लासम (1996) इत्यादि शामिल हैं।

वहीं दूसरी ओर, एस पी बालासुब्रमण्यम के निधन के बाद उनका एक वीडियो संदेश तेज़ी से वायरल हो रहा है जिसमें वह कह रहे हैं कि उन्हें कोरोनावायरस की हल्की सी शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती करवाया गया है और उनके प्रशंसकों को चिंतित होने की कोई आवश्यकता नहीं है। यह वीडियो देख कर यह समझना बहुत मुश्किल नहीं है कि कोरोनावायरस के ख़तरे को हल्के में लेना, मास्क न पहनना, लगातार साबुन से अच्छी तरह हाथ पैर न धोना तथा सोशियल डिस्टेंसिंग का पालन न करना हम सभी के लिए कितना ख़तरनाक साबित हो सकता है। 

वीडियो यहाँ देखें

679